Spoken and Learn English Easily At Home-अंग्रेजी बोलना सीखे

Spoken and Learn English Easily At Home – आज के ज़माने में अंग्रेजी का महत्व कितना है ये हमें बताने की जरुरत नहीं।  आज  हर जगह जहाँ आप जाए वहां अंग्रेजी एक अहम् भाषा है।  जिसके बिना हम कई जगह पीछे हट जाते है , और असफलता प्राप्त करके खुद को दोष देते है।  
हर कोई चाहता है की उसे इंग्लिश आये और अच्छी  तरह से सबके सामने बोल सकें।  किन्तु समस्या ये है की चाहता हर कोई है पर उस पर अमल नहीं करता ।   
सबकी सोच ये रहती है की कहीं मैं गलत तो नहीं , गलत होगा तो लोग क्या सोचेंगे , कहीं लोग मजाक ना उडा दे । हमारा यही सोचना गलत होता है क्यूंकि हम सबकुछ करने के पहले ही उल्टा पुल्टा सोच लेते है और असफल हो जाते है ।  
सबसे पहले कुछ बाते जो आप लोगों को जानना जरुरी है, जिससे आपकी शंका, डर या संकोच खत्म हो जाये और आप लोग आसानी से इसमें सफलता प्राप्त कर सकें ।  
  • भाषा का के लिए जरुरी होता है शब्दों का ज्ञान,  क्यूंकि शब्दों से वाक्य और वाक्य से भाषा का निर्माण होता है । 
  • बोलने  से ज्यादा  मुश्किल होता है लिखना या पढ़ना ।  मतलब बोलना आसन होता है ।  
  • छोटा बच्चा पहले बोलना सीखता है और बाद में लिखना और पढ़ना सिख पाता है ।  
  • बोलने के लिए जरुरी है – सुनना , क्यूंकि जो सुन नहीं सकता वो बोल नहीं पायेगा ।  
  • एक बच्चा जो सुनता है वो उसी को बोलने का प्रयास करता है , ना की लिख कर ।  
  • आप देखेंगे की जिसके घर में 2 बच्चें होते है तो छोटा बच्चा अगर लड़की हो और बड़ा लड़का तो आप देखेंगे की वह बच्ची हुबहू अपने भाई की तरह ही बोलेगी , क्यूंकि वो कुछ सीखती नहीं बस सुनती है , जैसे मैं  खाऊंगा, मैं जाऊंगा , मै सोऊंगा इत्यादि।  
  • आप देखेंगे की जो भी मनुष्य सुन नहीं पत्ता वह कभी बोल नहीं पाता है , मतलब वह बहरा होने के साथ गूंगा भी रहेगा ।  
  • बोलने के लिए पहले सुनना सुनना और सुनना जरुरी है ।   
 

Spoken and Learn English Easily At Home-अंग्रेजी बोलना सीखे

Spoken and Learn English Easily At Home-अंग्रेजी बोलना सीखे
ध्यान देने योग्य : हर पोस्ट का अध्ययन के बाद इसका अभ्यास ( Practice ) जरुरी है , इसमें कोई लापरवाही न करें ।  मेरा दावा है अगर आप ऐसा करते है तो आप निश्चय ही इंग्लिश आसानी से बोल पायेंगे ।  
हम हर लेख में हम जो पढेंगे उससे सम्बंधित प्रश्न एवं उत्तर का क्विज भी रखेंगे और जिसमें आप स्वयं अपना विश्लेषण करेंगे की आप किस स्तर तक पहुंचे है ।   तो आइये आज की शुरुआत करते है ।  
Day 1 

A Sub. करता है या किया करता है . ( Sub. = कोई एक व्यक्ति , वस्तु  या जगह )
Sub + 1st form + Other Words ( Past Simple)
Sub + Use to + 1st form + Other Words
उदा : – वह हर रोज बाजार जाता है मै हर रोज बाजार जाता हूँ 
He goes to the market every day. I go to the market every day.
वह हर रोज बाजार जाया करता है मै हर रोज बाजार जाया करता हूँ 
He use to go to the market every day I use to go to the market every day
B Subject किया करता था .
Subject + used to +1st form + other words
उदा : – वह हर रोज बाजार जाया करता था
He used to go market every day
C Subject को आदत है.
Sub + am /is / are + in the habit of + 1st form +ing +other words
Sub + has /have  + the habit of + 1st form +ing +other words
उदा : – उसे हर रोज बाजार जाने की आदत है .
He is in the habit of going to market every day
He has the habit of going to market daily.
D Subject  किसी का आदि हो .
Sub + am /is / are + used to + 1st form + ing + other words
उदा : – वह हर रोज बाजार जाने की आदि है .
He is used to going to the market every day

आज जो हमने सिखा उसका अभ्यास करे और घर पर ही बोले , बोलते समय ध्यान रखें की आवाज जोर से हो ताकि आपका संकोच खत्म हो जाये । इसी अनुसार स्वयं से वाक्य बनाये अगर कोई परेशानी हों तो हमें कमेन्ट करें हम आपका समाधान करेंगे